What is Liquid Fund 2021 in Hindi | What is Liquid Mutual Fund | Liquid Mutual Kya hai?

by Rahul Gupta
9 mins read
What is Liquid Fund 2021 in Hindi What is Liquid Mutual Fund Liquid Mutual Kya hai

What is Liquid Fund 2021 in Hindi, What is Liquid Mutual Fund, Liquid Mutual Kya hai?

What is a Liquid Fund in Hindi? Liquid Fund kya hai – अब तक हमने Closed Ended Mutual Fund, and Hybrid Mutual Fund के बारे में जाना और आज हम Liquid Mutual Fund के बारे में जानेंगे।

Liquid Fund Meaning – सरल शब्दों में कहा जाए तो, हम कह सकते हैं कि लिक्विड फंड (Liquid fund) एक प्रकार के म्यूचुअल फंड (Mutual fund) हैं जिसके अंतर्गत पैसों का निवेश प्रतिभूतियों (Securities) में किया जाता है, और लॉक-इन अवधि (Lock-in period) न होने की अवस्था में निवेश की गई संपत्ति लंबे समय तक निवेशित/बंधी नहीं रहती है।

बेहतर रिटर्न्स (Returns) और फ्लेक्सिबल रिडेम्पशन (Flexible redemption) के लिए निवेशक लिक्विड फंड (Liquid fund) में निवेश करना पसंद करता है ना कि फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed deposit) में।

लिक्विड म्यूचुअल फंड क्या है?

What is Liquid Mutual Fund/Liquid Mutual Fund Kya hai – म्यूचुअल फंड, निवेशक के लिए पैसा निवेश करने का एक आदर्श स्थान है और सबसे अच्छी बात ये है कि यह विभिन्न योजनाओं (Schemes) के रूप में बाजार (Market) में उपलब्ध है, लिक्विड म्यूचुअल फंड (Liquid Mutual Fund) उनमें से एक संपत्ति निवेश की योजना है।

लिक्विड म्यूचुअल फंड में निवेशक द्वारा किए गए निवेश के लिए उच्च स्तर की सुरक्षा होती है, जो निवेशकों को आकर्षित करती है।

लिक्विड म्यूचुअल फंड काम कैसे करते हैं?

How do liquid mutual funds work – लिक्विड फंड एक प्रकार का डेट (Debt) फंड हैं जिसके अंतर्गत आपका फंड मैनेजर (Fund manager) आपके पैसों को शॉर्ट टर्म मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स, जैसे सरकारी सिक्योरिटीज (Government securities), ट्रेजरी बिल (Treasury bills) इत्यादि में निवेश करते हैं।

लिक्विड म्यूचुअल फंड मुख्य रूप से अपनी डेट होल्डिगं (Debt Holding) पर ब्याज भुगतान के जरिए कमाते हैं।

यह फंड अक्सर ऐसी प्रतिभूतियां में निवेश किया जाता है जो अल्पकालिक होती हैं, इसकी निवेश की औसत परिपक्वता अवधि (Maturity period) 3 महीने होती है।

चूंकि यह केवल अल्पकालिक प्रतिभूतियों में निवेश करता है, अतः बाजार में ब्याज दर (Interest rate) के उतार-चढ़ाव (Fluctuation) का इनपर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ता है।

लिक्विड फंड में किसे निवेश करना चाहिए?

Who should invest in Liquid Funds – लिक्विड म्यूच्यूअल फंड ऐसे निवेशकों के लिए लाभदायक है जिनके पास कुछ नगद राशि हो और जो किसी लम्बी-अवधि (Long-term) की योजना में निवेश नहीं करना चाहते। यही कारण है कि हम लिक्विड म्यूचुअल फंड को कैश मैनेजमेंट (Cash-management) फंड भी कह सकते हैं।

यह निवेश उनके लिए भी लाभकारी है जो धन की आसान लिक्विडिटी (Liquidity) के लिए धन राशि बैंक एकाउंड में रखते हैं। क्योंकि लिक्विड म्यूचुअल फंड निवेश पर लिक्विडिटी के साथ ज्यादा रिटर्न भी देता है।

लिक्विड फंड में वे भी निवेश कर सकते हैं जो धन राशि का अस्थायी निवेश चाहते हैं या जिन्होंने यह निश्चित नहीं किया है कि उन्हें धन का कहाँ निवेश करना चाहिए। यही कारण है कि म्यूचुअल फंड की लिक्विड फंड योजना को नकद प्रबंधन उत्पाद (Cash management fund) भी माना जाता है।

लिक्विड म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले एक निवेशक के रूप में विचार करने योग्य बातें?

Things to consider before investing in Liquid Mutual Funds – लिक्विड म्युचुअल फंड में निवेश करने से पूर्व कुछ बातों पर गहन विचार करना बहुत जरूरी है। कुछ विचारणीय कारक (Factors) नीचे दिये गये हैं:

Returns rate on investment (निवेश पर रिटर्न्स दर) – लिक्विड म्युचुअल फंड में निवेश करने से पूर्व निवेश प्रबंधक (Investment manager) को फंड के पिछले प्रदर्शन रिकॉर्ड (Past performance records) का गहन अध्ययन अवश्य करना चाहिए। सटिक अध्ययन फंड के प्रदर्शन की जानकारी देगा, जो निवेश से पूर्व बहुत आवश्यक होता है।

Financial goal (वित्तीय लक्ष्य) – निवेशकों के लिए अपने वित्तीय लक्ष्य को जानना और समझना हमेशा फायदेमंद होता है, इसलिए बेहतर है कि कोई निवेशक किसी भी तरह के म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पूर्व अपने वित्तीय लक्ष्य की पहचान करने में सक्षम हो।

वित्तीय लक्ष्य का ज्ञान, जोखिम उठाने की क्षमता, निवेश की अवधि इत्यादि निवेशक को उनकी निवेश आवश्यकताओं को पूरा करने में सहायक एक म्यूचुअल फंड को चुनने का अवसर देगी।

Cost for Management (प्रबंधन के लिए लागत) – प्रबंधन के लिए लागत या व्यय अनुपात (Expense ratio), वह लागत है जो एक निवेश कंपनी फंड को संभालने के लिए निवेशकों पर लगाती या लेती है।

Expense Ration/व्यय अनुपात फंड के सभी प्रबंधन शुल्क (Management cost) और परिचालन लागत (Operating costs) का प्रतिनिधित्व करता है। अतः बेहतर रिटर्न के लिए लिक्विड म्यूचुअल फंड के व्यय अनुपात की तुलना जरूरी हो जाती है। कम व्यय अनुपात वाले फंड ज्यादातर डेट निवेशकों द्वारा पसंद किए जाते हैं क्योंकि यह उनके लाभ को अधिकतम करने में मदद करता है।

SEBI नामक संस्थान ने व्यय अनुपात की ऊपरी सीमा 1.05% अनिवार्य कर दी है।

Risk (जोखिम) – हालांकि लिक्विड म्यूचुअल फंड कम जोखिम वाला निवेश है, फिर भी अन्य सभी म्यूचुअल फंड उत्पादों की तरह, इस निवेश के साथ भी रिटर्न की गारंटी नहीं है।

म्यूचुअल फंड बाजार में जोखिम शुद्ध संपत्ति मूल्य (Net asset value) (NAV) पर उतार-चढ़ाव पर निर्भर करता है। लेकिन, लिक्विड फंड की मैच्योरिटी अवधि कम होने के कारण उसपर NAV का प्रभाव लगभग अप्रत्यक्ष होता है, और यह लिक्विड म्यूचुअल फंड कम जोखिम वाला निवेश बना देता है।

Tax on Returns (रिटर्न पर कर) – चूंकि, डेट फंड में निवेश पर रिटर्न कर योग्य (Taxable) है। इसलिए लिक्विड म्यूचुअल फंड में निवेश पर होने वाला लाभ भी टैक्स के दायरे में आता है, क्योंकि यह डेट फंड में निवेश करता है।

अतः लिक्विड फंड में निवेश करने से पहले निवेशक को रिटर्न पर टैक्स के तथ्य पर विचार करना चाहिए।

लिक्विड म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें?

How to Invest in Liquid Mutual Funds /How to invest in liquid funds- किसी भी निवेशक के लिए लिक्विड म्यूचुअल फंड में निवेश करने का पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम म्यूचुअल फंड के वाई सी (KYC) का अनुपालन करना है।

के वाई सी हो जाने के बाद निवेशक किसी भी निवेश प्रबंधक के माध्यम से सीधे फंड में निवेश कर सकता है, अथवा वह कंपनी की वेबसाइट (Website) या ऐप (App) पर जाकर ऑनलाइन भी निवेश कर सकता है।

लिक्विड म्यूचुअल फंड के फायदे और नुकसान क्या हैं?

What are the advantages and disadvantages of Liquid Mutual Funds – नीचे हम लिक्विड म्यूचुअल फंड में निवेश के कुछ फायदे और नुकसान देख सकते हैं।

लिक्विड म्यूचुअल फंड के फायदे (Advantages of Liquid Mutual Fund):

1. उच्च रिटर्न (Higher Returns) – लिक्विड फंड में निवेश एक सावधि जमा (Fixed deposit) या बचत बैंक खाते (Savings Account) की तुलना में निवेश पर बेहतर रिटर्न की गारंटी देता है।

2. उच्च तरलता या त्वरित redeem (Higher Liquidity or Quick Redemption) – इस निवेश में मोचन अनुरोध (Redemption Request) को तुरंत या एक कार्य दिवस के भीतर संसाधित (Process) किया जा सकता है, और यह विशेषता लिक्विड फंड में निवेश को अत्यधिक तरल और उपयोग में आसान बनाती है।

3. गैर प्रवेश या निकास भार (No Entry or Exit Load) – लिक्विड म्यूचुअल फंड के निवेश में एंट्री और एग्जिट लोड लागू नहीं होता है। यह सुविधा निवेशकों को आसान मोचन (Easy Redemption) की पहुंच प्रदान करती है।

4. ब्याज दर का कम जोखिम (Low Interest rate risk) – लिक्विड म्यूचुअल फंड की लचीली होल्डिंग अवधि (Flexible Holding Period) के कारण, यह शायद ही कभी बाजार की ब्याज दर में उतार-चढ़ाव से प्रभावित होता है। अतः लिक्विड फंड में निवेश कम ब्याज दर का जोखिम प्रदान करता है।

लिक्विड म्यूचुअल फंड के नुकसान (Disadvantages of Liquid Mutual Fund):

1. कम रिटर्न (Low Returns) – लिक्विड फंड में निवेश करने का सबसे बड़ा नुकसान यह है कि वे लंबी अवधि के उच्च रिटर्न निवेश विकल्पों की तुलना में कम रिटर्न प्रदान करते हैं।

2. मुद्रास्फीति जोखिम (Inflation Risk) – मुद्रास्फीति जोखिम मुख्य रूप से मनी मार्केट फंड के लिए एक मुद्दा है। क्योंकि मुद्रास्फीति वृद्धि ब्याज दर में वृद्धि का कारण बनती है और जब ब्याज दर में वृद्धि होगी तो बांड (Bond) की कीमत गिरेगी, जो शुद्ध संपत्ति मूल्य को नीचे ला सकती है। नेट एसेट वैल्यू में गिरावट लिक्विड फंड मार्केट को बुरी तरह प्रभावित करती है।

3. कर लागत (Taxation) – लिक्विड म्यूचुअल फंड से लाभ निवेशक की आय में जुड़ जाता है और उनके टैक्स ब्रैकेट के अनुसार उन्हें निवेश से अपने अल्पकालिक लाभ पर कर का भुगतान करना होता है।

4. प्रबंधन लागत (Management Fee) – बैंक जमा या सावधि जमा की तुलना में, एक निवेशक को लिक्विड म्यूचुअल फंड में निवेश करते समय फंड प्रबंधन शुल्क का भुगतान करना पड़ता है, जो एक बड़ा नुकसान है।

क्या लिक्विड म्यूचुअल फंड सुरक्षित हैं?

Are liquid mutual funds safe – अक्निसर वेशको का प्रश्न होता है की क्या लिक्विड फंड रिस्क फ्री होते है (Are liquid funds risk free) तो चलिए हम समझते है की क्या लिक्विड फंड को सुरक्षित माना जा सकता है?

लिक्विड फंड ओपन एंडेड स्कीम हैं जो केवल 91 दिनों तक की अधिकतम मैच्योरिटी वाले डेट और मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स में निवेश करती हैं। इसलिए, एक लिक्विड फंड की औसत मेच्युरिटी 91 दिनों के बराबर या उससे कम होती है। यह रणनीति ब्याज दर में उतार-चढ़ाव से उत्पन्न जोखिम को कम करने में मदद करती है, पोर्टफोलियो को उच्च तरलता प्रदान करती है और स्थिर आय उत्पन्न करती है।

लिक्विड फंड को लिक्विडिटी और ब्याज दर जोखिम के नजरिए से कम जोखिम वाले उत्पादों में से एक है। ऐसा इसलिए है क्योंकि ये फंड अपना पैसा बहुत कम अवधि के साधन (very short term instruments) में निवेश करते है जहां ब्याज दर में उतार-चढ़ाव की संभावना कम होती है।

अन्य डेट फंडों की तुलना में इन स्कीमों के रिटर्न में बहुत कम उतार-चढ़ाव होता है। निवेश पोर्टफोलियो की कम परिपक्वता/शोर्ट मेच्युरिटी के कारण क्रेडिट जोखिम (डिफॉल्ट का जोखिम ) की संभावना भी कम होती है। क्रेडिट जोखिम को और कम करने के लिए क्रेडिट फंडामेंटल के मूल्यांकन के आधार पर निवेश किया जाता है जैसे कि सेक्टर पर आउटलुक, पेरेंटेज, प्रबंधन की गुणवत्ता और क्रेडिट रेटिंग आदि।

अच्छा लिक्विड म्यूचुअल फंड कौन सा है?

Which is the best liquid mutual fund – निम्न लिक्विड फंड्स को 3 से 5 साल की अवधि के लिए अच्छे म्यूच्यूअल फंड माना जा सकता है

best liquid fund hindi - apneebachat

इमेज साभार  – www.cleartax.in से

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

1. लिक्विड म्यूचुअल फंड में कौन निवेश कर सकता है (Who can invest in liquid mutual fund)?

लिक्विड फंड अल्पावधि या आपातकालीन निवेश के लिए बहुत अच्छे हैं। यह निवेशक को न्यूनतम जोखिम पर स्थिर रिटर्न की गारंटी देता है। अतः जो निवेशक ज्यादा लिक्विडिटी चाहते हैं और लॉन्ग टर्म स्कीम में निवेश नहीं करना चाहते हैं, उनके लिए लिक्विड म्यूचुअल फंड सबसे अच्छा विकल्प है।

2. क्या लिक्विड म्यूचुअल फंड रिटर्न की गारंटी देते हैं (Do liquid mutual fund guarantee returns)?

लिक्विड म्यूचुअल फंड भी बाजार से जुड़ा हुआ है और यह बाजार के उतार-चढ़ाव से भी प्रभावित हो सकता है, इसलिए यह रिटर्न की गारंटी नहीं देता है। परन्तु इसके हाई लिक्विडिटी और रेडेम्पशन फ्लेक्सिबिलिटी (Redemption Flexibility) के कारण इसे कम जोखिम निवेश कहा जा सकता है।

3. क्या मैं लिक्विड म्यूचुअल फंड से पैसा निकाल सकता हूं (Can I withdraw money from liquid mutual funds)?

हाँ, निवेशक लिक्विड म्युचुअल फंड से अपनी जरूरत के अनुसार पैसा निकाल सकता है और रिडेम्पशन प्रक्रिया में मात्र एक कार्य दिवस लगता है।

4. लिक्विड म्यूचुअल फंड के क्या फायदे हैं (What are the advantage of liquid mutual funds/What is the benefit of liquid fund)?

बेहतर रिटर्न, सुरक्षा, उच्च तरलता, कोई लॉक-इन अवधि नहीं होना आदि लिक्विड म्यूचुअल फंड के कुछ बड़े फायदे हैं। लिक्विड फंड उन निवेशकों के लिए उपयोगी हैं जो अल्पावधि के लिए सरप्लस फंड (Surplus Fund) का निवेश करना चाहते हैं।

आज हमने देखा कि What is Liquid Fund 2021 in Hindi, आगे हम म्यूच्यूअल फंड के और भी रोचक टॉपिक आपके लिए लाते रहेंगे । आपको ये आर्टिकल कैसा लगा हमे बताएं। हमे आपके सुझाव एवं कमेंट्स का इंतज़ार रहेगा। बने रहिये अपनीबचत पर।

You may also like

Leave a Comment