What is Exit Load in Mutual Fund in Hindi | Mutual Fund Exit Load Kya Hai?

by Rahul Gupta
5 mins read
What is Exit Load in mutual fund in Hindi

What is Exit Load in Mutual Fund in Hindi | Mutual Fund Exit Load Kya Hai?

What is Exit Load in Mutual Fund in Hindi – जैसा कि हम जानते है कि म्युचुअल फंड विभिन्न निवेशकों के लिए समान निवेश उद्देश्यों वाले निवेशों का एक पूल है। और हम ये भी जानते है कि, अकेले इन फंडों का मैनेजमेंट निवेशकों के लिए काफी मुश्किल है; इसीलिए इन्हें सँभालने के लिए एसेट मैनेजमेंट कंपनियां (AMC) होती हैं। ये AMC निवेशकों द्वारा फंड का प्रबंधन करते हैं और यह सुनिश्चित करते हैं कि निवेश विकास करे।

म्यूचुअल फंड AMC को रिटर्न जनरेट और फंड के प्रबंधन के लिए वित्तीय विशेषज्ञों की एक टीम की आवश्यकता होती है। इसी कारण से जब भी कोई निवेशक किसी फंड से बाहर निकलता है या उसे रिडीम करता है तो ये एएमसी एक छोटी राशि का शुल्क लेते हैं। और इसी शुल्क को एक्जिट लोड कहा जाता है।

आप पढ़ रहे है – What is Exit Load in Mutual Fund in Hindi

Exit Load क्या है?

What is Exit Load – एग्जिट लोड वह शुल्क है जो एएमसी (एसेट मैनेजमेंट कंपनियां) फंड की यूनिट्स/इकाइयों से बाहर निकलने के समय निवेशक से वसूलती हैं। एग्जिट लोड लगाने का प्राथमिक कारण निवेशकों को लॉक-इन अवधि समाप्त होने से पहले अपने निवेश को बंद करने या निकलने से हतोत्साहित करना है।

एक सच ये भी कि बहुत से लोग एग्जिट लोड होने की वजह से म्यूच्यूअल फंड योजनाओं से अन-आवश्यकरूप से पैसा नही निकालते है। तो हम ये बोल सकते है कि, एक्जिट लोड शुल्क म्यूचुअल फंड योजनाओं से निकासी संख्या को कम करता है। हालांकि, सभी फंड निवेशकों पर एक्जिट चार्ज नहीं लगाते हैं। इसलिए, निवेश करते समय जो भी योजना का चयन आप कर रहे है आपको उस फंड का ‘एक्जिट लोड पहलू’ को ध्यान में रखना होगा।

अगर कोई निवेशक लॉक-इन अवधि में फंड से बाहर निकलता है, तो इसे फंड हाउस इसे एग्जिट पेनल्टी और कमीशन के रूप में वसूलता है। इसलिए, स्कीम चुनते समय, इसके expense ratio (एक्सपेंस रेश्यो/व्यय अनुपात) के साथ-साथ exit load पर भी विचार करें। आपको यह ध्यान रखना होगा कि एग्जिट लोड expense ratio (एक्सपेंस रेश्यो/व्यय अनुपात) का हिस्सा नहीं है।

म्यूच्यूअल फंड में Exit Load क्या है?

Exit Load in Mutual Funds – म्यूचुअल फंड में एग्जिट लोड आम तौर पर एक निवेशक के पास म्यूचुअल फंड के Net Asset Value नेट एसेट वैल्यू (NAV) का प्रतिशत होता है। नेट एसेट वैल्यू एक यूनिट का नेट वैल्यू होता है और इसकी कैलकुलेशन यूनिट की एसेट (संपत्ति) में से लायबिलिटी (देनदारियों) के मूल्य को घटा (माइनस) कर की जाती है। आमतौर पर, AMC कुल एनएवी से एक्जिट लोड काट लेते हैं और शेष राशि निवेशक के खाते में जमा कर देते है।

उदाहरण के लिए, यदि एक साल की योजना पर लगाया गया एक्जिट लोड 2% है और 5 महीने के भीतर रिडीम किया जाता है जो निवेश के एग्रीमेंट पीरियड से काफी पहले होगा। तो, म्यूच्यूअल फंड स्कीम में exit load लगेगा। अगर रिडेम्पशन के समय फंड का NAV 50 रुपये है, तो एग्जिट फीस 50 रुपये का 2% होगी। जो 1 रुपये के बराबर है। इस राशि को एनएवी से काटने के बाद जो रु. 49.00 निवेशक को क्रेडिट कर दिया जाता है। इसके अलावा, यदि निवेशक फंड की एग्रीमेंट पीरियड को पूरा करता है, तो उसे रिडेम्पशन के समय एक्जिट लोड का भुगतान नहीं करना होगा।

म्यूचुअल फंड में Exit Load कैसे कैलकुलेट करें?

How to Calculate Exit Load in Mutual Funds? – एग्जिट लोड की दरें म्यूचुअल फंड के प्रकार पर भी निर्भर करती हैं; अलग-अलग म्यूचुअल फंड अलग-अलग एग्जिट लोड चार्ज करते हैं।

मान लीजिए एक निवेशक ने जनवरी 2020 में म्यूचुअल फंड योजना में 50,000 रुपये निवेश किये। अगर निवेशक द्वारा फंड को 1 वर्ष से पहले redeem किया जाये तो पर स्कीम पर टर्म्स एंड कंडीशन के हिसाब से 1% का exit load लगेगा। NAV रु. 50 जिसका मतलब है कि निवेशक के पास 1000 इकाइयाँ हैं।

अब, यदि निवेशक 6 महीने के बाद यानी जुलाई 2020 में इकाइयों को redeem करना चाहता है। इस केस में, निवेशक को कैलकुलेशन के हिसाब से एक्जिट लोड का भुगतान करना होगा:

जनवरी 2020 में निवेशित मूल्य 50,000
इन्वेस्टमेंट करते समय NAV का मूल्य 50
खरीदी गयी यूनिट्स की संख्या 50000/50=1000
रिडेम्पशन करते समय NAV का मूल्य 55
Exit Load 1% of (55*1000)= 550
फाइनल रिडेम्पशन मूल्य 55000-550=54,450

विभिन्न प्रकार के म्युचुअल फंडों पर Exit Load

Exit Loads on Various Types of Mutual Funds – अलग-अलग म्यूचुअल फंड एक्जिट लोड की अलग-अलग दरें वसूलते हैं। हालांकि, सभी म्यूचुअल फंड निवेशकों पर एग्जिट लोड नहीं लगाते हैं। यह सलाह दी जाती है कि आप जिस म्यूचुअल फंड स्कीम में निवेश करना चाहते हैं, उसके एग्जिट लोड की जांच करें। आइए म्यूचुअल फंड पर कुछ दरों की जांच करें।

1.  लिक्विड फंड पर कोई एंट्री या एग्जिट लोड नहीं होता है। इसका मतलब यह है कि निवेशक जब चाहें निवेश को redeem कर सकते हैं और अगले ही दिन पैसा उनके बैंक खातों में जमा कर दिया जाएगा।

2.  डेट फंड में एक्जिट लोड हो भी सकता है और नहीं भी। हालांकि, कोई भी निवेश अवधि को उस समयावधि के साथ समायोजित करके इस exit load के खर्च से बच सकता है जिसके लिए फंड एक एक्जिट लोड लेता है।

आप पढ़ रहे है – What is Exit Load in Mutual Fund in Hindi

SIP पर Exit Load

Exit Load on SIP – SIP/एसआईपी के माध्यम से निवेश करते समय अधिकांश निवेशक आमतौर पर ‘एक्जिट लोड’ को समझने में गलती कर देते हैं। निवेशकों की एक आम धारणा यह है कि यदि उन्होंने एक साल पहले एक एसआईपी शुरू किया है, तो यदि वे निश्चित समय के भीतर निवेश बेचते हैं तो उनसे कोई एक्जिट लोड नहीं लिया जाएगा। लेकिन सही यह है कि अधिकतर निवेशक इसे गलत समझ रहे हैं।

दरअसल, एसआईपी पर एग्जिट लोड अन्य सभी म्यूचुअल फंडों की तरह ही कैलकुलेट किया जाता है। अगर उस योजना में 1 साल के लिए exit load मान्य है तो exit load से बचने के लिए प्रत्येक एसआईपी किस्त को 12 महीने की समयावधि पूरा करना आवश्यक है।

उदाहरण के लिए, यदि आपने 2 साल के लिए एसआईपी में निवेश किया है, तो आपको SIP की हर किश्त पर exit load न लगे इसके लिए आखिरी गयी किश्त से 1 साल तक का इंतज़ार करना होगा, मतलब कि आपको 2 साल के बाद 1 और साल इंतजार करना होगा, यानी एग्जिट लोड से छुटकारा पाने के लिए कुल 3 साल।

निष्कर्ष

Conclusion – निवेशक को निवेश करते समय बहुत ही जागरूक रहने की आवश्यकता है, और इसी जागरूकता वश उसे हमेशा निवेश करते समय exit load का ध्यान रखना ही चाहिए। म्यूचुअल फंड योजना में निवेश करने से पहले आपको सावधानी बरतनी चाहिए क्योंकि यह आपको अन्य सभी खर्चों के निपटारे के बाद रिटर्न का अनुमान लगाने में मदद करेगा।

कोई भी निवेशक अनजाने में कभी भी एग्जिट लोड के रूप में जुर्माना नहीं लेना चाहेगा। एक्जिट लोड आपके और आपके नियोजित निवेशों पर भारी पड़ सकता है; आप इसे व्यवस्थित प्लानिंग करके टाल सकते है यदि आप विवेकपूर्ण तरीके से यूनिट्स की बिक्री की योजना बनाते हैं।

आशा है आपको म्यूच्यूअल फण्ड पर दी गयी जानकारी पसंद आई होगी, हमे आपके सुझाव व कमेंट्स का इंतज़ार रहेगा। हम आगे भी ऐसे दिलचस्प आर्टिकल आपके लिए लाते रहेंगे, तो बने रहिये हमारे साथ apneebachat.com पर।

You may also like

Leave a Comment