What is ELSS Funds in Hindi?

by Rahul Gupta
5 mins read
what is elss fund

What is ELSS Funds in Hindi? – नए साल की शुरुवात के साथ टैक्स सीजन की शुरुवात भी होने लगती है, और हम जैसे सभी लोग टैक्स सेविंग निवेश के लिए अपनी खोज शुरू कर देते है।

टैक्स सेविंग म्यूचुअल फंड या इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्कीम (ईएलएसएस) लोकप्रिय टैक्स सेविंग (कर-बचत) विकल्पों में से एक है।

इएलएसएस क्या है ELSS क्या है?

What is ELSS in Hindi? इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्कीम (ईएलएसएस) एक ओपन-एंडेड इक्विटी म्यूचुअल फंड स्कीम है, जहां ज्यादातर फंड कॉर्पस इक्विटी या इक्विटी से संबंधित उत्पादों में निवेश किया जाता है।

ईएलएसएस फंड को कर बचत योजना भी कहा जाता है क्योंकि वे 1.5 लाख रुपये तक की आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत कर छूट प्रदान करते हैं।

ईएलएसएस को अपने पोर्टफोलियो का 80% इक्विटी सिक्योरिटीज में निवेश किया होना चाहिए। निवेशक द्वारा किया गया निवेश तीन साल की अवधि के लिए लॉक-इन है और ये अवधि अनिवार्य लॉक-इन अवधि होती है।

हाल के वर्षों में, हमारे जैसे कितने ही टैक्सपेयेर्स (करदाता) ने tax benefits का लाभ उठाने के लिए ईएलएसएस योजनाओं की ओर रुख किया है। यदि आप ईएलएसएस योजनाओं में निवेश करते हैं, तो आप रुपये 1.5 लाख की सीमा तक निवेश की गई राशि पर tax exemption का लाभ उठा सकते हैं।

इसके अलावा, तीन साल के कार्यकाल के अंत में आप इस योजना के तहत जो आय अर्जित करते हैं, उसे लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन (LTCG) माना जाएगा और उस पर 10% कर लगेगा (यदि आय 1 लाख रुपये से अधिक है)।

Additional Reading – Mutual Fund kya hai ye kaise kam karta hai?

 ELSS म्युचुअल फंड की विशेषताएं

Features of ELSS Mutual Funds

  • यहां ELSS फंड की कुछ प्रमुख विशेषताएं दी गई हैं
  • ईएलएसएस फंड अपने पोर्टफोलियो का एक बड़ा प्रतिशत इक्विटी में निवेश करते हैं।
  • ELSS Funds में 3 साल की अनिवार्य लॉक-इन अवधि होती है, जो सभी tax saving instruments (कर बचत साधनों) में सबसे कम है।
  • ईएलएसएस में आप एक साथ दो फायदे उठाते है – कर-बचत के साथ इक्विटी में निवेश से पूंजी का समय के साथ बढ़ोत्तरी होना!
  • यदि आप ईएलएसएस से नियमित आय प्राप्त करना चाहते हैं तो आप dividend pay-out वाला विकल्प चुन सकते है या फिर अगर आप capital appreciation चाहते है तो growth आप्शन चुन सकते है!
  • ELSS म्यूचुअल फंड में कोई entry or exit load नहीं है।
  • अच्छे ईएलएसएस फंड्स लंबे समय में 10-12 प्रतिशत के दायरे में रिटर्न उत्पन्न करते हैं, जो कि कर-बचत श्रेणी के उपकरणों में सबसे अधिक है। हालांकि, ईएलएसएस भी कुछ जोखिमों के साथ आता है, जो इक्विटी निवेश में निहित हैं
  • ईएलएसएस से हुई आय पर कर नियमों के अनुसार LTCG लगाया जाता है।
  • ईएलएसएस फंड विविध रूप से इक्विटी में निवेश करता है।

आप पढ़े रहे है – What is ELSS Funds in Hindi?

ELSS म्यूचुअल फंड में निवेश क्यों करना चाहिए?

ईएलएसएस फंड बहुत से लाभ के साथ आते हैं। ईएलएसएस फंड में निवेश करने के सबसे प्रचलित कारण हैं:

  • ईएलएसएस फंडों में निवेश करने का सबसे प्रमुख कारण है, टैक्स बचत का लाभ उठाना। आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80 सी के अनुसार, आप इन फंडों में रु 1.5 लाख तक निवेश करके कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • ये फंड लंबी अवधि के लिए निवेश करने की आदत बनाने में मदद करता है। यद्यपि अन्य म्युचुअल फंड योजनाएं दीर्घकालिक निवेश के साथ आती हैं, किन्तु वे एक निश्चित लॉक-इन अवधि के लिए आपको बाध्य नहीं करती हैं। दूसरी ओर, ईएलएसएस म्यूचुअल फंड के साथ, आपको न्यूनतम 3 साल के लिए निवेश करने की आवश्यकता है। इसके अलावा, लंबी अवधि के लिए निवेश करके, आपको अर्जित रिटर्न पर कर का भुगतान करने से छूट दी जा सकती है।
  • ईएलएसएस में आप अपने फंड को 3 साल के लॉक-इन पीरियड के बाद या तो आगे growth के लिए छोड़ सकते है या फिर आप उसे रेडीम भी कर सकते हैं। चूंकि ईएलएसएस फंड इक्विटी में पैसा लगाते हैं, इसलिए अच्छा रिटर्न कमाने की संभावना अधिक होती है।
  • ये म्यूचुअल फंड के साथ, आप एक व्यवस्थित तरीके से बचत की आदत को विकसित कर सकते हैं। ये फंड आपको कम से कम रु 500 प्रतिमाह निवेश शुरू करने की अनुमति देते हैं। इससे निवेश करने की आदत बनती है।
  • सर्वश्रेष्ठ ईएलएसएस फंड आपको शेयर बाजार में निवेश करने की अनुमति देते हैं। जहां एक सामान्य बचत खाता अधिकतम 6-7% का रिटर्न देता है, इन फंड्स में निवेश करके आप हाई रिटर्न्स का लाभ उठा सकते हैं।
  • विधीकरण Diversification  – अधिकांश ईएलएसएस फंड कंपनियों के एक विविध समूह में निवेश करते हैं जो small-cap से लेकर large-cap और विभिन्न क्षेत्रों में होते हैं। यह आपको अपने निवेश पोर्टफोलियो में Diversification के (element) तत्व को जोड़ने में मदद करता है।
  • कम न्यूनतम राशि – अधिकांश ईएलएसएस योजनाएं निवेशकों को कम से कम 500 रुपये के साथ निवेश शुरू करने की अनुमति देती हैं। यह सुनिश्चित करता है कि आप एक बड़ा कार्पस जमा किये बिना भी निवेश करना शुरू कर सकते हैं।
  • एसआईपी – आप ईएलएसएस योजना में एकमुश्त राशि का निवेश कर सकते हैं, तो अधिकांश निवेशक एसआईपी को पसंद करते हैं क्योंकि यह उन्हें कम मात्रा में निवेश करने और धन लाभ के अवसर के साथ कर लाभ प्राप्त करने की अनुमति देता है।

आप पढ़े रहे है – What is ELSS Funds in Hindi?

ईएलएसएस फंड के प्रकार

ईएलएसएस म्यूचुअल फंड तीन प्रकार के होते हैं, जिन्हें कोई निवेशक चुन सकता है,

1. Growth Option – इस विकल्प में, निवेशक को केवल रेडीम के समय लाभ मिलता है। आपकी टोटल NAV में बढ़ोत्तरी ईएलएसएस म्यूचुअल फंड के मुनाफे को बढ़ा देती है। इसमें निवेशक को  dividends के रूप में लाभ नही मिलता है। जैसा की हम जानते है कि म्यूचुअल फंड रिटर्न बाजार के जोखिमों के अधीन हैं, और इसलिए ये बात ईएलएसएस फंडों के  रिटर्न पर भी लागू है।

2. Dividend Option – इस विकल्प में, निवेशक को समय समय पर लाभांश मिलता रहता है। लेकिन जैसा कि हम सब जानते है कि कंपनी को जब अत्यधिक लाभ होता है तभी वो लाभांश की घोषणा करती है। 2020 के बजट के अनुसार, dividends पर निवेशकों को अपने आयकर स्लैब के आधार पर कर का भुगतान करना चाहिए।

ईएलएसएस फंड के प्रकार को चुनने पर, निवेशक एकमुश्त राशि या एसआईपी के माध्यम से निवेश कर सकता है। ईएलएसएस म्यूचुअल फंड छोटे निवेशकों के लिए भी उपयुक्त हैं, जो टैक्स बचाने के लिए छोटी और नियमित मात्रा में निवेश करना चाहते हैं। हालांकि, अगर किसी निवेशक के पास एकमुश्त राशि है, तो वे पूरी राशि को टॉप ईएलएसएस फंड में भी निवेश कर सकते हैं।

ELSS में निवेश कैसे करें

आप ईएलएसएस में उसी तरह से निवेश कर सकते हैं जैसे आप किसी भी म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं। आप एकमुश्त या एसआईपी (व्यवस्थित निवेश योजना) मार्ग के माध्यम से निवेश कर सकते हैं।

एसआईपी नियमितता और अनुशासन सुनिश्चित करता है और पूंजी के जोखिम को कम करता है। आप ईएलएसएस फंड में रुपये 500 जितना कम निवेश कर सकते हैं। जबकि आप केवल रुपये 1.5 लाख तक कर लाभ का दावा कर सकते हैं, आप जितना चाहें उतना निवेश करने के लिए स्वतंत्र हैं।

आप पढ़े रहे है – What is ELSS Funds in Hindi?

ईएलएसएस में निवेश करने के 5 तरीके

पांच विकल्प हैं जिनके माध्यम से आप ईएलएसएस में निवेश कर सकते हैं।

  • AMC वेबसाइट से सीधे निवेश करें
  • ऑनलाइन म्यूचुअल फंड निवेश प्लेटफार्म से
  • अपने डीमैट खाते का उपयोग करके
  • Karvy (कार्वी) और Cams (केम्स, सीएएमएस) जैसे रजिस्ट्रार के माध्यम से
  • अपने एजेंट के माध्यम से

ELSS का अन्य साधन से तुलना

Comparison of ELSS with other tools, ELSS अन्य टैक्स सेविंग इंस्ट्रूमेंट्स के साथ कैसे तुलना करता है?

इंस्ट्रूमेंट (साधन) का नाम
(Instrument Name)
लॉक इन समय
(Lock in Period)
रिटर्न्स
(Returns)
रिटर्न्स पर टैक्स
(Tax on Returns)
ELSS3 साल10-12%लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स (LTCG)
टैक्स सेविंग FD
Tax-Saving FD
5 साल6-7%इनकम टैक्स Income Tax
नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC)
National Saving Certificate
5 साल7-8%इनकम टैक्स Income Tax
पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF)
Public Provident Fund
15 साल7-8%टैक्स नही लगता
नेशनल पेंशन योजना (NPS)
National Pension System
60 साल तक8-10%आंशिक रूप से टैक्स लगता है

जैसा कि स्पष्ट है, ईएलएसएस फंड्स अन्य टैक्स सेविंग इंस्ट्रूमेंट्स की तुलना में बेहतर हैं, जिनमें सबसे कम लॉक-इन अवधि (3 वर्ष) और बेहतर रिटर्न हैं। ये टैक्स एफिशियंट (tax-efficient.) भी हैं। यदि आप एक अच्छा टैक्स-सेविंग निवेश विकल्प तलाश रहे हैं, तो ईएलएसएस म्यूचुअल फंड एक बढ़िया विकल्प हैं।

आप पढ़े रहे है – What is ELSS Funds in Hindi?

Top ELSS fund for 2021

Fund Name1 yr3 yr5 yr7 yr10 yr
Axis Long Term Equity11.379.7913.6418.7716.77
Mirae Asset Tax Saver20.5610.0418.98NANA
Invesco India Tax Plan15.597.5113.4317.1614.16
Aditya Birla Sun Life Tax Relief 9610.213.9811.7416.4912.53
DSP Tax Saver14.206.9814.1217.2113.59
Kotak Tax Saver11.007.8413.8716.8111.63
ICICI Prudential Long Term Equity Fund (Tax Saving) Growth12.296,5711.0514.7212.34
Motilal Oswal Long Term Equity5.013.4014.13NANA
UTI Long Term Equity Fund - Regular Plan - Growth16.886.9812.4114.2410.94

You may also like

Leave a Comment