What is Credit Card, How Credit Card works?

by team apneebachat
What is credit card, How credit card works

What is credit card, How credit card works? Credit Card Kya hai, Credit Card kaise kam karta hai?

Credit Card, cardholders (उपयोगकर्ताओं /कार्डधारकों) को जारी किया गया एक payment card (भुगतान कार्ड) होता है, जो cardholder को card issuer के वादे के आधार पर goods and services (वस्तुओं और सेवाओं) के लिए एक merchant को pay (amounts plus the other agreed charges) करने में सक्षम बनाता है ।

क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों खरीद के लिए भुगतान का सबसे पसंदीदा तरीका रहा है। आजकल के युवा वर्ग credit card से payment करना काफी पसंद करते है क्यूंकि इसके साथ बहुत से rewards भी मिलते है| ये इसीलिए भी प्रचलन में है क्यूंकि इसमें रीपेमेंट का अतिरिक्त time मिल जाता है वो भी कम से कम ४०-50 दिनों का|

हम पढ़ रहे है – What is credit card, How credit card works? Credit Card Kya hai, Credit Card kaise kam karta hai?

What is Credit Card?

Credit Card kya hota hai, क्रेडिट कार्ड क्या होता है?एक क्रेडिट कार्ड प्लास्टिक कार्ड (credit card को plastic money भी बोलते है ) है जो एक financial institution  द्वारा issue किया जाता है। यह cardholder  को समान और सर्विसेज की खरीद का पेमेंट करने के लिए धन उधार देता है। cardholder को उधार लिए हुए पैसे का पेमेंट,  principal + interest  के रूप में financial institution को नियत तारीख को करना होता है। Card Issuer, card holder की आय स्तर के आधार पर एक उधार सीमा निर्धारित करता है। क्रेडिट कार्ड को आज की दुनिया में सबसे पॉपुलर पेमेंट का तरीका माना जाता है।

How Credit Card Works?

Credit Card kaise kaam karta hai, क्रेडिट कार्ड कैसे काम करता है? – Credit Card, bank या financial services company द्वारा कार्डधारक को दी जाने वाली क्रेडिट सेवा है। Credit cardholders दिए गए credit का उपयोग करके खरीदारी कर सकते हैं वो भी बिना cash (नकद) के।

कार्ड से की गई खरीद कि राशि को हर महीने या billing cycle के आधार पर pay (भुगतान) किया जाता है। Buyer (खरीदार) को शेष राशि का भुगतान करने के लिए cash (नकदी) की व्यवस्था करने के लिए अधिक समय मिल जाता है। ग्राहक को उसके credit history और income के आधार पर, credit limit दी जाती है।

यदि ग्राहक हर महीने full statement amount का payment (भुगतान) करता है, तो ग्राहक का credit score बढ़ जाता है, जिससे एक बड़ा loan प्राप्त करने की बेहतर संभावना होती है। साथ ही, क्रेडिट कार्ड से किया गया प्रत्येक लेनदेन कुछ rewards अर्जित करने में सक्षम होगा।

इसके विपरीत, यदि ग्राहक समय पर statement balance का भुगतान करने में fail (विफल) रहता है, तो उसे शेष राशि पर interest ब्याज देना होगा। ये याद रखना चाहिए कि शेष राशि पर लगने वाला interest अन्य सभी प्रकार कि loans पर लगने वाले interest से ज्यादा होता है। इसके साथ साथ interest के अलावा late payment fees भी देना होगा। यह किसी individual (व्यक्ति) के credit score क्रेडिट स्कोर को नुकसान पहुंचा सकता है।

हम पढ़ रहे है – What is credit card, How credit card works? Credit Card Kya hai, Credit Card kaise kam karta hai?

How to apply for Credit Card?

Credit Card kaise Apply kare, क्रेडिट कार्ड के लिए Apply कैसे करें?

Step 1: आपको जिस भी बैंक का क्रेडिट कार्ड लेना हो, आप उस बैंक कि वेबसाइट के क्रेडिट कार्ड पेज पर जाये

Step 2: website par उपलब्ध सभी listed credit cards के benefits and features पढने के बाद अपने हिसाब से सही credit card चुने |

Step 3: कार्ड  कि eligibility criteria CHECK and Verify करे, कि क्या आप उन सभी को संतुष्ट करते हैं।

Step 4: यदि आपको लगता है कि आप eligibility criteria को पूरा करते हैं, तो वेबसाइट पर card कि details के आगे “Apply Now” पर क्लिक करें।

Step 5: Application Form में सभी आवश्यक details fill करे।

Step 6: Apply करते समय सभी आवश्यक supporting documents (सहायक दस्तावेजों) की copy attach करें।

Step 7: बैंक आपकी application process करेगा और स्थिति पर आपके साथ संपर्क करेगा।

Important Point before you get Credit Card

क्रेडिट कार्ड बनवाएं तो ये जानना जरूरी – हालिया आई एक रिपोर्ट के अनुसार नोटबंदी केबाद से क्रेडिट कार्ड से लेन-देन में 84% का इजाफा हुआ है। ये आंकड़ा बताता है कि क्रेडिट कार्ड केप्रति ग्राहकों की रुचि तेजी से बढ़ी है। अगर आप भी यह कार्ड बनवाना चाह रहे हैं तो इन बातों का ध्यान रखें-

  1. Interest Rate इंटरेस्ट रेट : क्रेडिट कार्ड लेने से पहले यह जरूर जानें कि अनबिल्ड राशि पर ब्याज कितना चुकाना होगा। आमतौर पर क्रेडिट कार्ड पर बैंक 22 से 48% तक सालाना ब्याज वसूलते हैं।
  2. Annual Fees वार्षिक फीस : लगभग सभी क्रेडिट कार्ड अपने ग्राहकों से अलग-अलग राशि सालाना फीस के तौर पर लेते हैं। हालांकि कई बार कुछ बैंक ऑफर के तहत सालाना फीस में छूट भी देते हैं। कुछ बैंक अपने खाताधारकों को Lifetime Free लाइफटाइम फ्री कार्ड भी देते हैं। ऐसे में सभी ऑप्शन की जांच सोच-समझकर पहले कर लें।
  3. Joining Fees ज्वाइनिंग फीस : कुछ बैंक क्रेडिट कार्ड पर ज्वॉइनिंग फीस भी वसूलते हैं, लेकिन कुछ ऐसे भी होते हैं जो ये सेवा फ्री में देते हैं। सुपर प्रीमियम कैटेगरी के कार्ड पर ज्वॉइनिंग फीस अधिक होती है। क्रेडिट कार्ड लेने से पहले अलग-अलग बैंकों के क्रेडिट कार्ड की Joining Fees का comparison कर लेना चाहिए।
  4. Easy EMI इजी ईएमआई : कार्ड में Interest Free Easy EMI का option है या नहीं, इस बात की पड़ताल जरूरी है। अक्सर महंगी चीज खरीदने के दौरान यह ऑप्शन काफी काम आता है।
  5. Billing Date बिलिंग डेट : तय Billing Date निकल जाने पर काफी रकम ब्याज के रूप में चुकानी होती है। इसलिए यह ध्यान रखें कि बिलिंग डेट के मामले में बैंक कितना flexible है।
  6. Rewards Point रिवार्ड पॉइंटस: कई बैंक रिवार्ड पॉइंट देते हैं तो कई cashback का ऑफर। अगर आप क्रेडिट कार्ड का ज्यादा यूज करने वाले हैं तो इसे जरूर चेक कीजिए क्योंकि रिवार्ड पॉइंट और कैशबैक से आपको अच्छी-खासी बचत हो सकती है।
  7. Easy Payment इजी पेमेंट: क्रेडिट कार्ड केलिए अप्लाई करने से पहले यह भी चेक कर लेना चाहिए कि उसमें पैमेंट का ऑप्शन क्या है? कई बैंक एनईएफटी या नेट बैंकिंग के जरिए पैमेंट के ऑप्शन देते हैं,  लेकिन कुछ नहीं भी देते।

हम पढ़ रहे है – What is credit card, How credit card works? Credit Card Kya hai, Credit Card kaise kam karta hai?

Where to use Credit Card?

Credit Card kaha use kar sakte hai – Credit Card को आप किसी भी प्रकार कि shopping के लिए use कर सकते है – online shopping, petrol पंप में, super markets, malls कही भी। Demonetization के बाद तो digital payment कि popularity काफी बढ़ गयी है। बड़े बड़े malls के साथ साथ अब तो छोटे दुकानदारों ने भी कार्ड मशीन रखना start कर दी है जिससे आप अब छोटी shops पर भी credit card use कर सकते हो।

Online Shopping में आपको payment करते time कार्ड कि details enter करनी होती है जैसे card number, expiry date, card CVV number. Store या किसी दुकान पर shopping करते time आपको card का PIN लगेगा।

जानकारी के लिए – Credit Card का PIN हम online generate बड़ी आसानी से कर सकते है।

What is Credit Limit?

Credit Card Limit kya hai – अगर आपके पास क्रेडिट कार्ड है तो , आपके लिए क्रेडिट कार्ड के बारे में जानने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से एक है आपकी क्रेडिट सीमा या credit score। आपके क्रेडिट कार्ड की क्रेडिट सीमा maximum outstanding balance (अधिकतम बकाया राशि) है जो आपके क्रेडिट कार्ड पर दिए गए समय पर बिना किसी penalty के receive (प्राप्त) हो सकती है। ऋण से दूर रहने और एक अच्छा credit score (क्रेडिट स्कोर) बनाने के लिए आपको अपनी क्रेडिट सीमा का प्रबंधन (credit limit manage) करना महत्वपूर्ण है।

यदि आप सोच रहे हैं कि आपके क्रेडिट कार्ड की credit limit क्या है, तो अपने billing statement को check करें, अपने online account पर login करें या अपने क्रेडिट कार्ड की customer care service पर कॉल करें।

Credit Card Advantages/Benefits

Credit Card ke fayde, क्रेडिट कार्ड के फ़ायदे

  1.  क्रेडिट कार्ड use करने पर आपको उसका due भरने के लिए 45-50 दिन का टाइम मिल जाता है।
  2. आप खर्च किये हुए amount को EMI में कन्वर्ट करा या खुद भी कर सकते है।
  3. क्रेडिट कार्ड से हर खरीद पर reward points या cash back मिलता है जिसे आप next purchasing में use कर सकते हो।
  4. क्रेडिट कार्ड अगर होतो तो आपको बहुत सारा कॅश रखने की जरुरत नहीं होति।
  5. आज कल बहुत से Billers (Airtel, BSNL/MTNL, Electricity Companies) के साथ ये attach हो जाता है जिससे आपके बहुत टेलीफोन electricity के bills automatically नियत date पर भर दिए जाते है ।

Credit Card Disadvantages

Credit Card ke nuksaan, क्रेडिट कार्ड के नुकसान – जैसे क्रेडिट कार्ड उसे करने के benefits/फायदे है वैसे ही इसके कुछ नुकसान भी है लेकिन अगर हम सावधानियां बरते तो हम इनसे निजात पा सकते है

  1. जब हम क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करते है तो बैंक हमे 45-50 दिनों का टाइम देता है उस उधार लिए हुए पैसो को जमा करने का। लेकिन अगर इन 45-50 दिनों में पेमेंट नहीं किआ तो बैंक अच्छा खासा ब्याज वसूलता है और ये ब्याज प्रतिदिन के हिसाब से लगता है जो की बहुत ज्यादा हो जाता है इसीलिए हमेशा ध्यान रखे की देय amount नियत तारीख पर भर दे, और असुविधा से बचे।
  2. कई बार ये भी देखा गया है कि credit card के होने से हम लोग un-necessary कि चीज़े खरीदने लगते है,  क्यूंकि आजकल सभी credit card EMI कि सुविधा प्रदान करते है, जिससे हम कर्ज (loan) के जाल में फंस सकते है।

What is a Cash Back Credit Card?

Cashback Credit card kya hai – Cashback Credit cards कुछ नहीं आपके द्वारा खर्च किये गए धन का एक निश्चित amount या percentage, mostly ये percentage ही होता है आपको cash back के form में आपके credit card में वापस आ जाता है| और ये परसेंटेज मोस्टली 1% या 2% खरीद का होता है।

यदि किसी कार्ड का कैश बैक रेट 1 प्रतिशत है तो उदाहरण के लिए, आपके खर्च किए गए प्रत्येक 100 रुपये में से आपको 1 रुपये cash back के रूप में मिलेंगे।

Cash Back Credit Cards एक लोकप्रिय प्रकार के क्रेडिट कार्ड हैं। विभिन्न क्रेडिट कार्ड कंपनियों में से आधे से ज्यादा कंपनियों के पास कैश बैक कार्ड का विकल्प होगा।

विभिन्न कार्ड अलग-अलग लाभों के साथ आते हैं जिन्हें हम आगे कि post में कवर करेंगे। एक अच्छा कार्ड आपको खर्चों को कवर करने, क्रेडिट स्कोर बनाने या यहां तक ​​कि अपनी बचत को बढ़ाने में मदद कर सकता है।

आगे की post में हम बहुत ही credit card कि एक महत्वपूर्ण topic को जानेंगे कि What is Credit Card Limit, Credit Card Limit kya hai?  तो बने रहिये हमारे साथ apneebachat.com पर।

You may also like

Leave a Comment