Bad Bank Meaning 2021 Hindi | What is Bad Bank in Hindi | 5 Benefits of Bad Banks in Hindi

by Neeti Jain
5 mins read
Bad Bank Meaning Hindi

Bad Bank Meaning 2021 Hindi | What is Bad Bank in Hindi | 5 Benefits of Bad Banks in Hindi

Bad Bank Meaning 2021 Hindi/What is Bad Bank in Hindi/5 Benefits of Bad Banks in Hindi – इस साल फ़रवरी में बजट 2021 (Bad Bank Budget 2021) में माननीय वित्त मंत्री जी ने बैड बैंक के बारे में बता कर सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया था। कल ही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बैड बैंक के बारे में बड़ी घोषणा की।

लगातार खराब कर्ज को लेकर परेशान बैंकों को इससे बड़ी राहत मिलेगी। यहाँ जानने वाली बात यह है कि इस बैंक से कोई आम आदमी लेन देन नहीं कर सकेगा, ना तो आपका खाता खुलेगा और ना ही आप पैसे जमा कर पाएंगे। अब सभी लोग ये जानना चाहते है कि आखिर ये बैड बैंक कौन सी बला का नाम है, और आखिर क्यों इसका नाम बैड है। तो चलिए आज इसी के बारे में बात करते है, कि कैसे इसकी शुरुआत हुई और क्या होगा फायदा।

बैड बैंक क्या है?/ बैड बैंक क्या होते है? (Bad Banks Meaning/What is Bad Banks)

Bad Bank Kya Hote hai? – बैड बैंक सामान्य तरह के बैंक नही होते है बल्कि ये एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी (एआरसी)  होते है जिसमे बैंकों के डूबे कर्ज को इस कंपनी या बैंक के पास ट्रांसफर कर दिये जाते है, जिससे बैंको की बैलेंस शीट साफ़ हो जाएगी, और बैंको के ऊपर वित्तीय बोझ कम हो सकेगा, बैंक धन होने के कारण आसानी से ज्यादा से ज्यादा लोगों को लोन से दे सकेंगे और इससे देश की आर्थिक ग्रोथ रफ्तार पकड़ेगी.

आरबीआई (RBI) गवर्नर शक्तिकांत दास ने कुछ समय पहले एनपीए के बारे में कहा था और साथ में एनबीएफसी (गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों) के नियमों को टाइट या सख्त करने की बात साझा की थी। एनपीए बढ़ने से होता ये है की बैंक और NBFC कंपनियों के पास पैसो की कमी हो जाती है। ऐसे में ये कंपनियां आगे कर्ज नहीं दे पा पाती हैं और पैसो का रोटेशन न होने के कारण कई कंपनियां या बैंक डूबने की कगार पर आ जाते हैं।

बैड बैंक जानकारी (Bad Bank News  2021)

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को कहा कि केंद्र बैंकों से खराब ऋण खरीदने के लिए नेशनल एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड (National Asset Reconstruction Company Ltd., NARCL) को 30,600 करोड़ रुपये की गारंटी देगा।

NPA क्या होता है ? (NPA Kya Hota Hai/What is NPA)

NPA  का मतलब है नॉन परफार्मिंग एसेट। आरबीआई के नियमों के मुताबिक,  ऐसी सभी सम्पत्तियाँ जिससे बैंक की कोई आय नहीं होती है, उसे NPA कहा जाता है। इस NPA में बैंक द्वारा दिए हुए कर्ज भी शामिल होते है, हालांकि, इसके लिए 180 दिन की सीमा तय की गई है। मतलब अगर कोई लोन 180 दिनों से अधिक ओवरड्यू मतलब चुकाया नही जाता है, तो वह NPA कहालाएगा। अगर इस वक्त की बात करें, तो भारतीय बैंकिंग सिस्टम में कुल NPA करीब 8.5 फीसदी है। आरबीआई का अनुमान है कि मार्च तक यह बढ़कर करीब 12.5 फीसदी हो सकता है।

NARCL के लिए कितना बैड लोन? (How much bad loans for NARCL?)

एनएआरसीएल को हस्तांतरण के लिए बैंक बही से निकाले जा रहे बैड लोन का मूल्य लगभग 2 लाख करोड़ रुपये है। पहले चरण में करीब 90,000 करोड़ रुपये के फंसे कर्ज को ट्रांसफर किया जाएगा। 30,600 करोड़ रुपये की गारंटी 2 लाख करोड़ रुपये के पूरे पूल को कवर करेगी।

सरकारी गारंटी पांच साल की अवधि के लिए वैध होगी और गारंटी के आह्वान के लिए पूर्ववर्ती शर्त संकल्प या परिसमापन होगी। समाधान में देरी को हतोत्साहित करने के लिए, एनएआरसीएल को एक गारंटी शुल्क का भुगतान करना पड़ता है जो समय बीतने के साथ बढ़ता जायेगा।

Bad Bank NPA - apneebachat

बैड बैंक की शुरुआत किसने की ? (Who started Bad Bank?)

बैड बैंक की शुरुआत कहाँ से हुई – बैड बैंक की शुरुआत अमेरिका जैसे देश ने अपने देश में वित्तीय सुधार को देखते हुए 80 के दशक में की थी। 1980 के दशक में अमेरिकी बैंक खराब कर्ज की वजह से डूबने के कगार पर थे. ऐसे में पहली बार बैड बैंक के कॉन्सेप्ट को खाका तैयार किया और उसके बाद से ही अमेरिका में इसे जमीनी स्तर पर लागू किया गया। अमेरिका स्थित मेलन बैंक 1988 में पहला बैड बैंक था। इसके अलावा जर्मनी, स्पेन, पुर्तगाल, फ्रांस में सालों से इस तरह के बाद बैड बैंक काम कर रहे हैं।

किन देशो में है बैड बैंक (Which countries has Bad Bank)

दुनिया के विभिन्न देशो में ये बैड बैंक काफी पहले से स्थापित हो चुके है और ये काफी सफलतापूर्वक अपना काम कर रहे है. जैसा की पहले बताया इन बैंकों का काम बैड एसेट्स को गुड ऐसेट्स में बदलना होता है, फ्रांस, जर्मनी, स्पेन, पुर्तगाल ये वे देश है जहाँ कई साल से बैड बैंक काम कर रहे है

ये भी पढ़े –
बैंक में रखा पैसा (मूल्य) कितना सुरक्षित है?
बैंक से सम्बंधित सीरीज पढ़े

क्या बैड बैंक आम बैंको की तरह होंगे? (Will bad banks be like normal banks?)

ये बैंक सामान्य बैंक नही होंगे, ये बैंक आम जानता के लिए कार्य भी नही करेंगे! मतलब की इसमें कोई भी ऐसा काम जो सामान्य बैंको में होता है वो नही होगा (पैसो का लेन देन आदि) नही, ये सिर्फ बैंको के लिए कार्य करेंगे, और बैंक ही इनसे संपर्क करेंगे अपने NPAs के लिए! आप पढ़ रहे है  हमारी पोस्ट – Bad Bank Meaning 2021 Hindi

बैड बैंक के फायदे (Benefits of Bad Bank )

Advantages of Bad Bank  – बैड बैंक के निम्नलिखित फायदे होंगे –

  1. यह बैंकों को खराब कर्ज से मुक्त करेगा। बैंक बैलेंस शीट साफ दिखेगी।
  2. इससे बैंक पर बोझ कम होगा क्योंकि उन्हें अब कर्ज वसूली के लिए कर्जदारों के पीछे नहीं भागना पड़ेगा। बैड बैंक इस पर ध्यान देगा।
  3. बैंक ऋण देने के अपने मुख्य कार्य पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं।
  4. बैड बैंकों को बैड लोन बेचने के बाद मुक्त किए गए धन का उपयोग आगे नए ऋण देने के लिए किया जा सकता है।
  5. बैंकों को अपनी उधार गतिविधियों का विस्तार करने के लिए प्रोत्साहित करें।

आज हमने Bad Bank Meaning 2021 Hindi को भली भांति समझा हम आगे भी म्यूच्यूअल फंड एवं पर्सनल फाइनेंस से सम्बंधित ऐसे और भी रोचक टॉपिक आपके लिए लाते रहेंगे । आपको ये आर्टिकल कैसा लगा हमे बताएं। हमे आपके सुझाव एवं कमेंट्स का इंतज़ार रहेगा। बने रहिये apneebachat.com पर।

You may also like

Leave a Comment